Hemmano-Articles
समसामयिक

मैन वर्सेज वाइल्ड में नरेंद्र मोदी के जुड़ने के क्या मायने हैं?

इसमें कोई शक नहीं है कि विश्व के सबसे बड़े लोकतंत्र के लीडर नरेंद्र मोदी विश्वस्तर पर अपनी भूमिका को लेकर कुछ ज्यादा ही सक्रिय रहते हैं।
उन्होंने अब तक 6 महाद्वीपों में 59 के करीब देशों में यात्राएं की है, लेकिन हाल ही में उन्होंने एक नया कार्य कर सबको चौंका दिया है, इस कार्य से ना सिर्फ समर्थक खुश हैं बल्कि विपक्षी भी वार करने के तरीके ढूंढ रहे हैं।

29 जुलाई की सुबह अंग्रेजी एडवेंचरर और लाइफ सर्वाइवल प्रोग्राम “मैन वर्सस वाइल्ड” के मुख्य होस्ट “बेयर ग्रील्स” ने अपने ट्विटर अकाउंट पर दुनियाभर के अपने सारे फैन्स को एक तोहफा दिया।

यह तोहफा दुनियाभर से अधिक भारतीय फैन्स के लिए ज्यादा सुखदायी रहा होगा।

उन्होंने कुछ यह ट्वीट किया :- बेयर ग्रील्स का ट्वीट

इस ट्वीट में उन्होंने यह सरप्राइज दिया कि भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 12 अगस्त को दर्शाए जाने वाले “मैन vs वाइल्ड” के प्रोग्राम में भारत के जंगलों की सैर करते बेयर ग्रील्स के साथ दिखाये जाने वाले हैं। और एक वीडियो में नरेंद्र मोदी बेयर ग्रील्स के भारतीय सरजमीं पर स्वागत करते नज़र आये हैं।

Hemmano-Articles

तस्वीर स्रोत :- गूगल वेब

इस तस्वीर में प्रधानमंत्री मोदी जी बेयर ग्रील्स के साथ किसी नदी के किनारे बैठे हैं जो कि इस कार्यक्रम का ही एक दृश्य है।

“मैन vs वाइल्ड” की लोकप्रियता किसीसे छिपी नहीं है, अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा से लेकर टेनिस के प्रसिद्ध खिलाडी रॉजर फ़ेडरर तक इस शो का पहले से ही हिस्सा रहे हैं। अब नरेंद्र मोदी को इस शॉ से जोड़ा जाना कई अर्थ निकालता है, जो कि पक्ष और विपक्ष दोनों का समान आकलन करता है।

नरेंद्र मोदी का इस शॉ से जुड़ने का क्या अर्थ है?

पक्ष :- (वैश्विक समुदाय का ध्यान जलवायु और बाघ संरक्षण पर केंद्रित करना) –

मोदी समर्थकों का मानना है कि नरेंद्र मोदी का यह कदम वैश्विक स्तर पर बिगड़ रही जलवायु और वन्यजीवन के साथ चल रही मानवीय क्रूरताओं के लिए एक बड़ा संदेश होगा, वे इस शॉ में हिस्सा लेकर ना सिर्फ भारतीय जंगलों की विहंगमता को दर्शाएंगे बल्कि यहाँ के बाघ संरक्षण जैसे मुद्दे पर वैश्विक दर्शकों के मन में एक प्रश्न जरूर पैदा कर देंगे। जलवायु परिवर्तन और बाघ संरक्षण जैसे दो मुद्दे इस कार्यक्रम की मुख्य थीम बताये जा रहे हैं। इस कदम को एक महत्वपूर्ण कदम के रूप में देखा जा रहा है जब 180 देशों के टीवी स्क्रीन पर एक साथ 12 अगस्त को इस कार्यक्रम का प्रसारण डिस्कवरी चैनल पर होगा।

विपक्ष :- विपक्ष ने इस पर कड़ा रुख अख्तियार करने का है, विपक्ष के अनुसार मोदी समर्थक जब कहते हैं कि प्रधानमंत्री ने आजतक कभी छुट्टी नहीं ली तो इस कार्यक्रम की शूटिंग किस प्रकार की?

जब देश में उन्नाव रेप पीड़िता पर हमला हुआ है तो मोदी जी उस पर प्रतिक्रिया ना देकर इस कार्यक्रम के वीडिओज़ शेयर कर रहे हैं?

देश के नौजवान बेरोजगार और गरीब भूखे फिर रहे हैं तब मोदी जी एक अंग्रेज के साथ अडवेंचर पर निकले हैं।

पुलवामा हमले के बाद भी नरेंद्र मोदी पर यह आरोप लगा था कि उन्हें हमले की जानकारी होने के बावजूद जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क में वे शूटिंग करते रहे।

ट्विटर पर भी तरह तरह की प्रतिक्रियाएं आ रही हैं, काफी मीम्स और चुटकुले इस ट्रेलर पर बन रहे हैं।

तस्वीर स्रोत :- ट्विटर #ModivsWild

Hemmano-Articles

Hemmano-Articles

पर फिर भी अधिकांश लोगों की प्रतिक्रिया यही है कि यह कदम विश्व स्तर पर जलवायु परिवर्तन और वन्यजीव संरक्षण जैसे मुद्दे को एकबार फिर से हवा देगा।

डिस्कवरी चैनल की ओर से जारी प्रेस विज्ञप्ति में प्रधानमंत्री मोदी के हवाले से कहा गया है कि इस शो के जरिये उन्हें यह मौका मिला है कि वे दुनिया को भारत की समृद्ध पर्यावरणीय विरासत और पर्यावरण संरक्षण का महत्व समझा सकें.

उन्होंने कहा, ‘सालों तक मैं प्रकृति के बीच, पहाड़ों और जंगलों में रहा हूं. इन सालों का मेरे जीवन पर गहरा असर है, तो जब मुझसे राजनीति के इतर एक विशेष कार्यक्रम करने के बारे में पूछा गया तब इसका हिस्सा बनने में मेरी दिलचस्पी जगी. मेरे लिए यह शो वह मौका है जिसके जरिये दुनिया को भारत की समृद्ध पर्यावरणीय विरासत और पर्यावरण संरक्षण का महत्व और कुदरत के साथ सामंजस्य से रहने में बताया जा सके. इस बार जंगल में बेयर के साथ समय गुजारने का बहुत अच्छा अनुभव रहा.’

Hemmano-Articles

(फोटो साभार: डिस्कवरी चैनल)

ग्रिल्स द्वारा साझा किए गए प्रोमो में ग्रिल और मोदी एक जंगली नदी को पार करने के लिए राफ्ट बनाते दिखते हैं. जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क में शूट हुआ यह एपिसोड हिंदी और अंग्रेजी के अलावा बांग्ला, तमिल और तेलुगू में प्रसारित होगा.

इसके अलावा मार्च महीने में इंडियन एक्सप्रेस की एक रिपोर्ट में बताया गया था कि 14 फरवरी, जिस दिन जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ की टुकड़ी पर आतंकी हमला हुआ था, के आसपास बेयर ग्रिल्स उत्तराखंड के जिम कॉर्बेट टाइगर रिजर्व के ढिकाला में थे.

इस दिन उत्तराखंड के वन विभाग द्वारा ढिकाला फॉरेस्ट रेस्ट हाउस में सभी पर्यटकों की बुकिंग रद्द कर दी गई थी क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य में आने वाले थे. भारत आने से पहले ग्रिल्स द्वारा कई ट्वीट किये गए थे, जो बाद में डिलीट कर दिए गए.

सबसे पहले उन्होंने 26 जनवरी को चुप रहने का इशारा करने वाले इमोजी के साथ लिखा था, ‘भारत के लिए एक बड़ा दिन! मैं कुछ बहुत ही विशेष शूट करने के लिए जल्द ही आने वाला हूं.’ बाद में यह ट्वीट डिलीट कर दिया गया।

Hemmano-Articles

स्रोत :- TheWireHindi

खरीदें सामान :-

खरीदें घरेलू सामान सस्ते दाम पर

अपनी रसोई को दीजिये ये उपहार

कपड़े खरीदना चाहते हैं? यहाँ क्लिक कीजिये

कमेंट लिखें